पुलिस चालान के नियम तथा नागरिकों के अधिकार | Citizen Rights during Police Challan



पुलिस चालान के नियम तथा नागरिकों के अधिकार | Citizen Rights during Police Challan


पुलिस चालान के नियम तथा नागरिकों के अधिकार | Citizen Rights during Police Challan
पुलिस चालान के नियम तथा नागरिकों के अधिकार | Citizen Rights during Police Challan

मस्कार दोस्तों, इस लेख में, मैं आपको बताऊंगा की पुलिस किस तरह चालान करती है। पुलिस चालान के सामान्य नियम और नागरिको के अधिकार के बारे मेंये जानना बहुत जरुरी है; कि पुलिस चालान के नियम क्या है; क्युकी आये दिन traffic police और civil police चालान (challan) करती है हम लोगो को जानकारी होनी चाहिए कि पुलिस किस तरह से चालान करती है और उसका भुगतान कौन कर सकता है। पुलिस का किस पद का अधिकारी चालान काटने का अधिकारी होता है तथा उसे चालान का अधिकार किस अधिनियम से प्राप्त है तो इन्ही सब के बारे में ये लेख है और ऐसी को मैंने वीडियो में भी बताया है। मैं इस लेख और youtube video में निम्न के बारे में बताऊंगा -
  1. Police Challan कितने तरह के होते है?
  2. पुलिस किस अधिकार के तहत चालान काटती है?
  3. किस रैंक का अधिकारी चालान काट सकता है ?
  4. चालान में क्या-2 सूचना होती है ?
  5. पुलिस चालान काटते समय क्या- या किन -किन डॉक्यूमेंट को मांग सकती है ?
Read also-
शादी के बाद संबंध बनाना अपराध नहीं- सुप्रीम कोर्ट | Supreme Court Scraped Section 497 Indian Penal Code
   सबसे पहले तो ये जान लेते है कि चालान (Police & Traffic Challan) कितने तरह के होते है:
Police challan 03 तरह के होते है-             

1. On the spot Challan:

इनका भुगतान पुलिस द्वारा उसी समय सरकारी शुल्क लेकर किया जाता है, जिसकी राषित भी पुलिस दूर चालान के साथ दी जाती है। इसके भुगतान के लिए कही जाने कि जरुरत नहीं पड़ती है।

2. Notice Challan:

पुलिस जब किसी वाहन को रोकती है और वह वाहन नहीं रुकता है तो पुलिस उसकी रजिस्ट्रेशन नोट करके उसके पते पर भिजवा देती है । ऐसी को नोटिस चालान कहा जाता है ।

3. Court Challan :

इसका चालान पुलिस द्वारा काटकर चालनकर्ता को दिया जाता है जिसका भुगतान चालनकर्ता कोर्ट में करता है।
पुलिस किस अधिकार के तहत चालान काटती है-
पुलिस मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 130 के तहत चालान करती है।
पुलिस चालान के नियम तथा नागरिकों के अधिकार | Citizen Rights during Police Challan
section 130 (1) MV act
पुलिस चालान के नियम तथा नागरिकों के अधिकार | Citizen Rights during Police Challan
section 130 (2) MV act
पुलिस चालान के नियम तथा नागरिकों के अधिकार | Citizen Rights during Police Challan
section 130 (3) MV act
पुलिस चालान के नियम तथा नागरिकों के अधिकार | Citizen Rights during Police Challan
section 130 MV act



किस रैंक का अधिकारी चालान काट सकता है -

पुलिस मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 132 के तहत चालान Sub inspector rank से कम का पुलिस अधिकारी चालान नही काट सकता है यानी की कांस्टेबल ओर हेड कांस्टेबल को चालान काटने का अधिकार नही होता है
पुलिस चालान के नियम तथा नागरिकों के अधिकार | Citizen Rights during Police Challan
section 132 MV act


चालान में क्या सूचना होती है-

  • चालान में पुलिस अधिकारी द्वारा जिसका चालान किया गया है उसका नाम होता है
  • Date जिस date को चालान काटता है
  • अपराध का विवरण mv एक्ट () की किन धाराओं का अपराध किया है उसका विवरण होता है।
  • कोर्ट का नाम -पुलिस अधिकारी द्वारा कटे गए चालान में जिस कोर्ट से चालान का भुगतान होगा उसका नाम लिखा होता है
  • हस्ताक्षर जिस पुलिस अधिकारी द्वारा चालान किया जाता है उसका हस्ताक्षर भी चालान पर अंकित होता है

पुलिस क्या डॉक्यूमेंट मांग सकती है-

पुलिस vehicle के documents जैसे driving licence, vehicle registration number, pollution certificate, insurance vehicle आदि डाक्यूमेंट्स मांग सकती है
Vehicle का परमिट RTO द्वारा मांग जाता है या traffic व्यवस्था संभालने बाली पुलिस द्वारा, थाने कि पुलिस को परमिट मांगने का अधिकार नहीं होता है ।


You tube video link of this article-


नागरिकों के अधिकार (Citizen rights during Challan):

पुलिस द्वारा गलत चालान करने पर लिखित शिकायत पुलिस अधीक्षक को कर सकते है। पुलिस को यह अधिकार नहीं होता है कि बो आपकी गाड़ी से चाबी निकाल कर रोके और चालान करे आप से बदतमीज़ी करे अगर पुलिस ऐसा करती है तो आप पुलिस अधिकारी से बिनम्रता से बताये कि ऐसा न करे और यदि वह फिर भी न मने तो आप पुलिस के बड़े अफसरों जैसे पुलिस अधीक्षक आदि से उनकी शिकायत कर सकते हो आप उनकी गोपनीय तरीके से ऑडियो और वीडियोस भी बड़े अधिकारिओं को दिखा सकते हो।
 Read also...
  1. दहेज़ उत्पीड़न में  तुरंत गिरफ़्तारी,सुप्रीम कोर्ट का  निर्णय 
  2. समलैंगिकता अपराध नहीं-सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक निर्णय
  3. अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति अधिनियम(अत्याचार निवारण) संशोधन 2018मुख्य प्रावधान तथा सुप्रीम कोर्ट का निर्णय

पुलिस चालान के नियम तथा नागरिकों के अधिकार | Citizen Rights during Police Challan पुलिस चालान के नियम तथा नागरिकों के अधिकार | Citizen Rights during Police Challan Reviewed by YourPoliceGuide on October 04, 2018 Rating: 5

6 comments:

  1. Very helpful post Keep it up Sir.

    ReplyDelete
  2. Very helpful...

    Kya khaki wardiwale police bhi bike ruka ke challan kaat sakte hai ?

    ReplyDelete
  3. ha bilkul lekin sub inspector rank se niche ka nahi hona chahiye...

    ReplyDelete
  4. Kya civil police apane village mai akar drink and drive case bana sakata hai

    ReplyDelete
    Replies
    1. nahi... apne viilage me local police ki madada se esa kar sakta hai lekin use khud ko power nahi hoti ki bo kisi anay nagrik ko apne gaon ke esa kre.. uske village ki police station ko rights hota hai...

      Delete
    2. चालान कि समय सीमा भी होती हैं?

      Delete

Powered by Blogger.