Arms Licence Verification in Hindi | Arms Licence Renewal in Hindi


Arms Licence Verification in Hindi | Arms Licence Renewal in Hindi

नमस्कार दोस्तों, आज इस लेख में आप जानोगे की शस्त्र लाइसेंस आवेदन की क्या प्रक्रिया है तथा क्या समयावधि (Arms Licence Verification in Hindi | Arms Licence Renewal in Hindi
) है। शस्त्र लाइसेंस का आवेदन जिलाधिकारी महोदय के कार्यालय में करना होता है । जहां से यह पुलिस अधीक्षक या वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय के कार्यालय आता है। यह उसके बाद अपर पुलिस अधीक्षक कार्यालय तथा क्षेत्राधिकारी कार्यालय से सम्बंधित  पुलिस थाना पर जाता है । जिस व्यक्ति ने शास्त्र लाइसेंस का आवेदन किया है उसका आपराधिक इतिहास देखा जाता है तथा जाँच की जाती है। उसके साथ साथ उस व्यक्ति की जाँच रिपोर्ट अभिसूचना इकाई तथा डी सी आर बी से भी कराई जाती है । उसके बाद यह वापस पुलिस अधीक्षक कार्यालय से  जिलाधिकारी कार्यालय जाता है। इस तरह से शस्त्र लाइसेंस प्रदान किया जाता है । सस्त्र लाइसेंस आवेदन से पहले ये जान ले की शासन द्वारा लाइसेंस खुला हो । खुद के जान का खतरा शस्त्र आवेदन के महत्वपूर्ण आवेदन का आधार होता है । यदि किसी व्यक्ति को खुद की जान को खतरा है तो वह शास्त्र लाइसेंस का बहुत ही कानूनी आधार होता है ।
Read also...पुलिस की शिकायतों के निस्तारण की प्रक्रिया एवं समयावधि

जिलाधिकारी (District Magistrate) के माध्यम से प्राप्त शस्त्र लाइसेंस (Arms Licence) प्रार्थना पत्रों पर थाना स्थानीय (Police station)/क्षेत्रधिकारी (Circle Officer)/ डी0सी0आर0बी0 (DCRB)/अभिसूचनाइकाई (LIU)/अपर पुलिस अधीक्षक (Additional SP) द्वारा जॉच कराने के उपरान्त जॉच आख्या (Enquiry report) को समीक्षोपरान्त अन्तिम निर्णय हेतु जिलाधिकारी (DM) की आख्या प्रेषित की जाती हैं। 

इस आर्टिकल को Visual तरीके से देखने के लिए निचे Video देखें -

शस्त्र लाइसेन्स (Arms Licence) संस्तुति किये जाने की प्रक्रिया तथा समय अवधि :


कार्य
किसके स्तर से कार्यवाही अपेक्षित
समय अवधि
जिलाधिकारी (DM) कार्यालय से शस्त्र (Arms) प्रार्थना पत्र की प्राप्ति
पुलिस अधीक्षक (SP/SSP)
कार्य दिवस/
कार्यालय अवधि में किसी भी समय
संबंधित थाने (police station) को अपराधिक इतिहास (Criminal History) सत्यापन हेतु भेजा जाना
संबंधित प्रभारी निरीक्षक (SHO)/थानाध्यक्ष (SO) द्वारा
07 दिवस में
डीसीआरबी (DCRB) द्वारा जनपद में किये गये अपराध (Crime) के संबंध में जांच किया जाना
प्रभारी डीसीआरबी (In charge DCRB )
04 दिवस में
संबंधित क्षेत्राधिकारी (Circle Officer) द्वारा जांच किया जाना
संबंधित क्षेत्राधिकारी (Circle Officer)
03 दिवस में
अपर पुलिस अधीक्षक (Additional SP) द्वारा जांच किया जाना
अपर पुलिस अधीक्षक (Additional SP)
03 दिवस में
जिलाधिकारी (DM) कार्यालय को लाइसेन्स (licence) प्रार्थना पत्र संस्तुति/असंस्तुति सहित भेजा जाना
पुलिस अधीक्षक (SP/SSP) कार्यालय द्वारा
अविलम्ब

शस्त्र लाइसेंस के नवीनीकरण (Arms Licence Renewal):

शस्त्र लाइसेंस के नवीनीकरण (Arms Licence Renewal) के लिये आवेदक संबंधित थाने में प्रार्थना पत्र देता है, थानाध्यक्ष की आख्या के आधार पर जिलाधिकारी कार्यालय द्वारा शस्त्र लाइसेंस का नवीनीकरण किया जाता है। यह प्रत्येक 3 वर्ष की अवधि के पश्चात अनिवार्य रूप से होना चाहिए।

निष्कर्ष :

आजकल शस्त्र लाइसेंस का दुरुपयोग भी बहुत होने लगा है जैसे कोई व्यक्ति नशे की हालत में गोली चला देता है इससे किसी जकी जान को खतरा हो सकता है । आजकल आपने हर्ष फायरिंग की घटनाओं के बारे में भी सुना होगा। इससे बहुत से मासूम लोगो की जान चली जाती है । कोई शादी या किसी ख़ुशी के फंक्शन में जाता है और लापरवाही से फायरिंग कर देता है । इससे बहुत जान जाने लगी है । पुलिस विभाग इस पर बहुत ही focus करता है क्योकि DGP कार्यालय तथा शासन से बहुत ही सर्कुलर हर्ष फायरिंग के सम्बन्ध में जारी किये जाते है। सभी लाइसेंस धारक को जिम्मेदारी समझनी चाहिए की जिस वहज से शस्त्र लाइसेंस दिया गया है उस जिम्मेदारी को निभाएं । 

Read also...

  1. भारतीय पुलिस अधिकारी की रैंक और बेज | Indian Police officer Rank and Badges | Indian Police officer Rank and Badges in Uttar Pradesh
  2. पुलिस चालान के नियम तथा नागरिकों के अधिकार | Citizen Rights during Police Challan
  3. रोजनामचा आम क्या है | Roznamcha Aam ( रोजनामचा आम )- उत्तर प्रदेश पुलिस में | General Diary of Police in India
  4. FIR (First Information Report) क्या है | FIR Kaise darj kare
  5. UP ATS (Anti Terror Squad), SPOT (Special Police Operations Group)- Complete Details In Hindi
  6. Police Powers, Duties and Responsibilities In India- under Police Act, 1861, Police Regulation Act & Code Of Criminal Procedure, 1973 (in Hindi) Latest
  7. Human Right Protection Guidelines by Honourable Supreme Court of India In Hindi | सर्वोच्च न्यायालय द्वारा मानव अधिकार संरक्षण संबंधी निर्देश
  8. Citizen Rights against Police Department in Hindi | पुलिस विभाग से संबधित नागरिक अधिकार क्या है?
  9. Passport Varification, Arms License Varification, Character Varification, MVR, GVR, PVR, Police & traffic Challan Disposal Timeline | जनता की सेवाओं हेतु निर्धारित समयावधि
  10. UP STF in Hindi | Special Task Force in Hindi | UP STF का गठन, उद्देश्य तथा संगठन
  11. 35A Article in Hindi | 35A kya hai | 35A के मुख्य प्रावधान क्या है
  12. ACO UP - Complete Details in Hindi | ACO (Anti Curruption Organisation) UP (Uttar Pradesh)- सम्पूर्ण विवरण
Arms Licence Verification in Hindi | Arms Licence Renewal in Hindi Arms Licence Verification in Hindi | Arms Licence Renewal in Hindi Reviewed by YourPoliceGuide on March 14, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.